ट्रेन में मिला जिंदा कछुओं से भरा बैग

बांदा उत्तर प्रदेश : मंडल में कछुओं की तस्करी के फलने-फूलने के सूत्र मिले है इसी क्रम में चित्रकूट जिले के मानिकपुर रेलवे स्टेशन में ट्रेन की तलाशी के दौरान जीआरपी मानिकपुर को लावारिश बैग से 140 कछुआ मले। बैग किसका है और वह कहां गया, इसकी छानबीन की जा रही है। फिलहाल कछुए मानिकपुर वाइल्ड लाइफ को सुपुर्द कर दिए गए हैं।
जी आर पी थाना प्रभारी मानिकपुर अरविंद सरोज के अनुसार रविवार की देर शाम कंट्रोल रूम झांसी से साकेत एक्सप्रेस के कोच नंबर डी-2 की बर्थ नंबर 51 के नीचे लावारिश बैग में कछुए होने की सूचना मिली। सूचना मिलने पर वन विभाग के रेंजर त्रिभुवन प्रसाद सिंह, वाइल्ड लाइफ की व आरपीएफ निरीक्षक अशोक कुमार की टीम के साथ मानिकपुर जंक्शन पहुंचे और ट्रेन की तलाशी ली। बर्थ के नीचे काला बैग पड़ा मिला जिसमें 140 जिंदा मिले कछुआ। यात्रियों से पूछताछ करने पर कोई यह नहीं बता पाया कि बैग कहां से और किसने कब रखा। बैग को ट्रेन से उतारकर कछुओं को वन विभाग के रेंजर को सुपुर्द कर दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *