परशुरामपुर में गंदे पानी का जमावड़ा लग जाने के कारण एक मासूम की हो गई है मृत्यु

कुशीनगर: जब से देश के अंदर बीजेपी की सरकार आई है उस वक्त से पूरे देश में साफ सफाई को लेकर बीजेपी ख़ज़ाने खोल रख्खी है और शासन प्रशासन को इसके लिए उजागर करते रहती है इतना ही नहीं भारत सरकार के प्रमुख योजनाओं में स्वच्छ भारत अभियान सबसे मुख्य योजना है और इस योजना का गांव गांव में पहुंचाने का कार्य सरकार ने किया है मगर कुछ सरकार के ही कर्मचारी और प्रतिनिधि इतने महत्वपूर्ण योजना को मिट्टी में मिलाने के लिए अथक प्रयास कर रहे हैं क्योंकि लाखों करोड़ों रुपए जिस योजना में खर्च हो रहे हो जिस योजना को सफल बनाने के लिए सरकार ने लाखों सफाई कर्मियों का जाल बिछाया हो उस योजना को अगर नाकाम बनाया जा रहा है तो इस पर सरकार के ऊपर भी सवाल उठना लाजमी है क्योंकि करोना कॉल के अंदर सरकार जो पूरी तरह से विफल रही उसका भरपाई करने के लिए अब कुछ भी बचा नहीं है बस यह कहा जाए जो बचा है उसी को अगर सही सलामत रखा जाए तो बड़ी बात होगी क्योंकि करोना को भगाने का और बीमारियों से मुक्ति पाने का एक ही तरीका है वह है साफ सफाई मगर कुछ लोग अपने ग्राम सभाओं में इसे भी नाकाम बनाने की कोशिश कर रहे हैं और सरकार को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं आपको बता दें कि कुशीनगर के विकास खण्ड नेबुआ नौरंगिया के अंतर्गत ग्राम सभा परशुरामपुर में गन्दा पानी के जमावड़ा लगने से ग्राम सभा के कई बच्चे बीमार भी पड़े थे जिसे ग्रामसभा के लोगों ने ब्लॉक स्तर के अधिकारियों को अवगत भी कराया था मगर ब्लॉक के अधिकारियों के द्वारा इस पर कोई ध्यान नहीं दिया गया

आयोजित तीन दिवसीय आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम

विधवा महिला परिवार रजिस्टर में अपना नाम दर्ज कराने के लिये दर-दर की ठोकरे खाने को मजबूर

जिसके चलते एक मासूम को अपनी जान गवानी पड़ी क्योंकि इस ग्राम सभा के अंदर सफाई का कार्य बिल्कुल जीरो है जिसके कारण नई नई बीमारियां जन्म ले रही हैं और यह लापरवाही सिर्फ इसी ग्राम सभा में नहीं बल्कि नेबुआ नौरंगिया विकासखंड के अंतर्गत तमाम ग्राम सभाओं में देखने को मिल रहा है

पुलिस ने पांच सौ गांजे के साथ एक अधेड़ को दबोचा

मगर प्रशासन आंख बंद करके बैठी हुई है और जनता को नई-नई बीमारियों से मरने के लिए छोड़ रही है अगर ब्लॉक के अधिकारी अपने कार्यों का निर्वहन करें और सरकार के इस महत्वपूर्ण योजना स्वच्छ भारत अभियान को साकार बनाने की कोशिश करें तो शायद कोई ग्राम सभा गंदा नहीं रहेगा और गंदगी का अंबार नहीं लगा होगा किसी भी ग्राम सभा में गंदगी की वजह से नई-नई बीमारियां नहीं फैलेंगी और मासूमों की मौत नहीं होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *