महराजगंज : भाजपा ने सोनी कश्यप को प्रत्याशी घोषित किया

महराजगंज: सदर ब्लॉक में प्रमुख पद चुनाव को लेकर शुरू हुए बवाल के बीच शुक्रवार को नाटकीय घटनाक्रम में निर्दल प्रत्याशी अनीता देवी पत्नी जयप्रकाश उर्फ साधु गुप्ता ने अपना पर्चा उठा लिया। इसी के साथ सदर ब्लॉक में बीजेपी प्रत्याशी सोनी कश्यप पत्नी है विवेक गुप्ता का निर्विरोध ब्लॉक प्रमुख बनना तय हो गया है।

सदर ब्लॉक में प्रमुख पद चुनाव में नामांकन को लेकर एक दिन पहले उस समय विवाद गहरा गया जब भाजपा ने सोनी कश्यप को प्रत्याशी घोषित कर दिया। भाजपा से टिकट के लिए साधु गुप्ता भी अपनी बीसीसी पत्नी अनिता के लिए दावेदारी किए थे। सोनी को टिकट मिलने के बाद साधु गुप्ता ने अपनी पत्नी अनिता को निर्दल प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़ाने का निर्णय से लिया। बुधवार की देर रात बीजेपी प्रत्याशी के गांव के एक युवक ने कोतवाली में तहरीर देकर जयप्रकाश उर्फ साधु गुप्ता, आकाश गुप्ता, अख्तर, जमशेद के खिलाफ मारपीट, धमकी व छिनैती का का केस दर्ज करा दिया। हालांकि पुलिस की जांच में मामला झूठा निकला। इसके बाद मामले को स्पंज कर दिया गया। गुरुवार को नामांकन पत्र जमा करने के दौरान भी हंगामा हुआ। पर, पुलिस की सतर्कता से विवाद नहीं बढ़ पाया। दोनों प्रत्याशी नामांकन पत्र जमा कर दिए। इसी चुनाव को लेकर गुरुवार की आधी रात फरेंदा रोड पर एक मैरेज हाउस पर असलहा का प्रदर्शन हुआ। इस मामले में बीजेपी प्रत्याशी सोनी कश्यप के पति विवेक गुप्ता की तहरीर पर कोतवाली में पूर्व ब्लॉक प्रमुख केशव बहादुर सिंह उर्फ बलदाऊ सिंह, उनके पुत्र सूर्य प्रताप सिंह के अलावा गबहुआ निवासी अख्तर व रामपुर खुर्द निवासी जमशेद व 11 अज्ञात लोगों के खिलाफ बलवा असलहा प्रदर्शन, चुनाव में बाधा डालने की कोशिश के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया। आरोप था कि गुरुवार रात 12 बजे पूर्व प्रमुख बलदाऊ सिंह कुछ लोगों के साथ गेस्ट हाउस पर पहुंचकर हंगामा करने लगे। पुलिस बलदाऊ सिंह व उनके पुत्र सूर्य प्रताप सिंह को हिरासत में लेकर कोतवाली ले गई। इस कार्रवाई में तीन लाइसेंसी असलहा भी बरामद हुए हैं। पूर्व ब्लॉक प्रमुख व उनके पुत्र की गिरफ्तारी के बाद जिले की सियासत में भूचाल आ गया। न्यायालय चालान की कार्रवाई के दौरान बदले घटनाक्रम में गुरुवार को अचानक जयप्रकाश उर्फ साधु गुप्ता की पत्नी अनिता सदर ब्लॉक पहुंची। अपना नामांकन पत्र वापस ले ली। इस मामले में एआरओ ने बताया कि सदर ब्लॉक में प्रमुख पद के लिए सोनी व अनिता ने नामांकन पत्र दाखिल किया था। शुक्रवार को अनिता ने अपना पर्चा वापस ले लिया। अब केवल सोनी कश्यप ही प्रत्याशी रह गई हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *