नौकरी पाने के लिए फर्जीवाड़ा का मामला सामने आया

कुशीनगर: जनपद में एक महिला के नौकरी पाने के लिए फर्जीवाड़ा का मामला सामने आया है। महिला कर्मचारी के सर्विस बुक में उसकी उम्र और महिला के बच्चे की उम्र में बड़ा अंतर पाया गया। जिलाधिकारी को शिकायत मिलने के बाद एसडीएम पडरौना ने मामले की छानबीन की। मामले में कार्यवाही के लिए सीएमओ कुशीनगर ने शासन को जांच रिपोर्ट के साथ पत्र भेजा, लेकिन महिला कर्मचारी कि गत माह ही कुशीनगर से संतकबीरनगर में तबादला हुआ है। एसडीएम की जांच में दोषी पाए जाने के बाद भी मामले में अभी भी एफआईआर की प्रक्रिया भी पूरी नहीं की गई है।

ब्लाक प्रमुख द्वारा प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री ग्रामीण आवास योजना का किया गया शुभारंभ

उम्र में हेराफेरी कर पाई नौकरी

लगभग काफी दिनों से कुशीनगर जिले के सीएमओ कार्यालय में तैनात रही महिला लिपिक राघव सिंह ने अपने प्रभाव के कारण चर्चा में रही हैं। इधर हाल ही में उनके सर्विस बुक में छाया प्रति के साथ जिलाधिकारी को मिली एक शिकायत में बताया गया था कि जिस शिक्षा प्रमाण पत्र द्वारा उन्होंने नौकरी ली है, वह फर्जी शिक्षा प्रमाण पत्र है।

पुलिस और प्रेस में नहीं होने के बावजूद भी गाडिय़ों की नेम प्लेट पर लिखवा लेते

लेकिन उसमें उनकी आयु गलत है। साक्ष्य के आधार पर शिकायतकर्ता ने सर्विस बुक में दर्ज उनके बच्चों की उम्र और उनकी उम्र के अंतर को प्रदर्शित करते हुए सामने रखा।

डीएम को सौंपी थी रिपोर्ट

भ्रष्टाचार के इस मामले में जिलाधिकारी ने एसडीएम पडरौना को जांच अधिकारी नामित कर दिया।

मुख्यमंत्री आवास योजना ग्रामीण लाभार्थियों का गृह प्रवेश, चाभी वितरण किया

एसडीएम पडरौना ने जब इस मामले में जाँच किया तो शिकायत के बिंदु को सही मानते हुए उन्होंने रिकार्ड मे हेराफेरी की पुष्टि की। साथ ही उक्त महिला कर्मी के कार्यवाही की संस्तुति करते हुए अपनी जांच रिपोर्ट जिलाधिकारी को सौंप दी।

कार्रवाई के लिए भेजा था पत्र

जिलाधिकारी के निर्देश के बाद सीएमओ ने तत्काल जाँच रिपोर्ट के साथ अपनी रिपोर्ट संलग्न करते हुए प्रदेश मुख्यालय लखनऊ स्थित स्वास्थ्य विभाग के निदेशक प्रशासन को कार्यवाही के लिए पत्र भेज दिया। विभागीय जानकारी के अनुसार सरकारी सर्विस बुक की जांच में महिला कर्मचारी और उनके तीनों पुत्रों की उम्र में मात्र 9 साल 11 साल वह 13 साल का अंतर पाया गया है।

व्यापारी की शिकायत पर एसपी ने दरोगा को किया लाइन हाजिर

निर्देश मिलने के बाद होगी कार्रवाई

सीएमओ डॉ सुरेश पटेरिया ने बताया कि उक्त लिपिक राघव सिंह वर्तमान में सीएमओ कार्यालय संतकबीरनगर में तैनात हैं उनके खिलाफ हुई जांच में हेराफेरी की पुष्टि हुई है। इस पूरे मामले मैं स्वास्थ्य निदेशालय को ई-मेल के जरिए रिपोर्ट भेज दी गई है, वहां से जैसा निर्देश प्राप्त होगा कार्यवाही की जाएगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *