प्रेमी के साथ मिलकर की पति की हत्या, आरोपी प्रेमी, प्रेमिका गिरफ्तार

   हरिद्वार: लापता चल रहे पथरी थानातंर्गत रानीमाजरा निवासी संजीव की हत्या की गयी थी। पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर रस्सी से गला घोंटकर हत्या करने के बाद शव जंगल में फेंक दिया था। बाद में पेट्रोल डालकर शव जला दिया था। पुलिस ने मामले का खुलासा करते हुए हत्यारोपी पत्नी व प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है।
         पथरी थाना प्रभारी अमरचंद शर्मा ने बताया कि रानीमाजरा निवासी संजीव की पत्नी ने 11 मई को उसकी गुमशुदगी दर्ज करायी थी। साथ ही ग्राम प्रधान पर शक जाहिर किया था। विवेचना के दौरान संजीव व उसकी पत्नी की फोन कॉल की जांच की गयी तो पत्नी की भूमिका संदिग्ध लगी। उससे पूछताछ गयी तो वह सवालों के जवाब नहीं दे पायी। शक पुख्ता होने पर सख्ती से की गयी पूछताछ में उसने बताया कि उनके घर दूध देने आने वाले शिवकुमार उर्फ शिब्बु निवासी धनपुरा से उसके प्रेम संबंध थे। उसका पति संजीव ने ही उसके प्रेम संबंध शिवकुमार से कराए थे। अप्राकृतिक यौन के शौकीन संजीव को अपनी मौजूदगी में किसी दूसरे के अपनी पत्नी एवं स्वंय से यौन क्रीड़ा में आनन्द की अनुभूति होती थी। काफी समय तक यह सिलसिला चलता रहा। इसी बीच संजीव शिवकुमार को ब्लैकमेल करने लगा था। जिससे उसे व प्रेमी शिवकुमार को संजीव उनके प्रेम संबंधों में बाधा लगने लगा। साथ ही उन्हें यह भी लगता था कि किसी दिन वह उनके प्रेम संबंधों को समाज के सामने उजागर कर देगा।
         इस पर उन्होंने संजीव को रास्ते से हटाने की योजना बनायी। योजना के मुताबिक संजीव की पत्नी उसे यौन क्रीड़ा के लिए प्रेमी शिवकुमार के फेरूपुर स्थित खाली पड़े मकान पर ले गयी। वहां दोनों ने रस्सी से गला घोंटकर संजीव की हत्या कर दी। हत्या के करने के बाद शव को प्लास्टिक के बोरे में भरकर पीपलीवाला के घने जंगलों में फेंक दिया। संजीव नेे ग्राम प्रधान के विरूद्ध सूचना अधिकार के तहत कई सूचना मांगी थी। इसलिए ग्राम प्रधान पर शक जताते हुए पुलिस में गुमशुदगी दर्ज करा दी। हत्या करने बाद उसने ईद के दिन प्रेमी शिवकुमार से संपर्क कर उसे जंगल में फेंके गए शव को पेट्रोल डालकर जलाने के लिए कहा। इस पर शिवकुमार ने जंगल में पड़े शव पर पेट्रोल डालकर जला दिया।
         आरोपी पत्नी से पूरी जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने प्रेमी शिवकुमार को भी गिरफ्तार कर लिया और उनकी निशानदेही पर जंगल से क्षत-विक्षत शव भी बरामद कर लिया। पुलिस टीम में एसएसआई प्रमोद कुमार, एसआई उमेश कुमार, कांस्टेबल मदनपाल, सुबोध, बिशन, सुरेश, महिला कांस्टेबल बबीता व नेहा शामिल रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *